images 21

अशोक गहलोत और सचिन पायलट के बीच तलवार अभी भी खिंची ही है | rajasthan news

Rajasthan news: कोरोनावायरस के बाद अब राजस्थान में और भी संकट गहराता जा रहा है अशोक गलत पड़े हुए हैं कि सचिन पायलट को डिप्टी सीएम ना बनने दिया जाए. राजस्थान का राजनीतिक विवाद कांंग्रेस ने भले ही सुलझा लिया हो, लेकिन अशोक गहलोत और सचिन पायलट के बीच तलवार अभी भी खिंची ही है. दोनों गुट एक दूसरे पर इशारों ही इशारों में हमला करने से नहीं चूक रहे हैं. वहीं नवनियुक्त प्रभारी महासचिव अजय माकन ने दोनों को लेकर बड़ा बयान दिया है.

Rajasthan news

अजय माकन ने कहा कि पार्टी के सभी जूनियर नेताओं को वरिष्ठ नेता का सम्मान करना चाहिए.

एक स्थानीय टीवी फर्स्ट इंडिया न्यूज चैनल से बात करते हुए कांग्रेस महासचिव अजय माकन ने कहा कि पार्टी सभी नेताओं और कार्यकर्ताओं का ख्याल रखती है. माकन ने स्वयं का उदाहरण देते हुए कहा कि मुझे पार्टी ने हमेशा प्रमोट किया. वहीं माकन ने इंटरव्यू के दौरान सचिन पायलट को नसीहत भी दिया. माकन ने कहा कि जूनियर नेताओं का वरिष्ठ नेताओं के खिलाफ नहीं बोलना चाहिए.

शीला दीक्षित के खिलाफ आज तक नहीं बोला– एक सवाल के जवाब में अजय माकन ने कहा कि राजनीति में कई बार विपरीत परिस्थितियांं आती रहती है, लेकिन हमेशा संयम से काम लेना चाहिए. माकन ने कहा कि हमने आज तक शीलाजी के खिलाफ कोई बयान नहीं दिया है.

अहमद पटेल संकटमोचक- राजस्थान विवाद सुलझाने के मुद्दे पर अजय माकन ने कहा कि पार्टी हाईकमान ने इसे बहुत बढ़िया तरीके से सुलझाया. अजय माकन ने कहा कि कांग्रेस में अहमद पटेल संकटमोचक हैं. इसके साथ ही माकन ने कहा कि पार्टी सभी मुद्दों को सुलझा लिया है.

राहुल के सिपहसालार माने जाते हैं माकन- अजय माकन राहुल गांधी के सिपहसालार माने जाते हैं. राहुल गांधी के अध्यक्ष पद से हटने के बाद ही अजय माकन को साइड लाइन चल रहे थे, जिसके बाद अब उन्हें यह महत्वपूर्ण जिम्मेदारी दी गई है. बताया जा रहा है कि माकन की नियुक्ति के पीछे राहुल गांधी की टीम की फिर से वापसी के तौर पर देखा जा रहा है.

Leave a Reply

Loading...