20201016 083631

महाराज और शिवराज में आई खटास?

मध्य प्रदेश में अपनी सत्ता बचाने के लिए मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान लगातार सभाएं कर रहे हैं. लेकिन उनकी रैलियों में बीजेपी के राज्यसभा सांसद और उनके साथी ज्योतिरादित्य सिंधिया नदारद दिख रहे हैं. इसे लेकर कांग्रेस बीजेपी पर हमलावर हो रही है. गुरुवार को भी विपक्षी पार्टी ने बीजेपी को आड़े हाथों लिया. जिसका जवाब देने के लिए मंत्री इमरती देवी को सामने आना पड़ा.

ग्वालियर चम्बल में आयोजित सीएम शिवराज सिंह की सभाओं में सिंधिया की गैरमौजूदगी पर कांग्रेस ने तंज कसा है. कांग्रेस नेता केके मिश्र ने कहा कि कल स्टार प्रचारकों की सूची में दसवां स्थान मिलने के बाद से सिंधिया नाराज हैं इसीलिए वह चुनावी कैम्पेन से गायब हैं.

वही कांग्रेस के आरोपों पर मंत्री इमरती देवी का कहना है कि बीजेपी के पास नेताओं की फौज है जरूरी नहीं है हर सभा में हर कोई आए, सब लोग अपनी अपनी जिम्मेदारी का निर्वाहन कर रहे हैं, कांग्रेस के पास तो केवल कमलनाथ अकेले नेता हैं वही सब जगह घूम रहे हैं. मंत्री इमरती देवी ने स्टार प्रचारकों की सूची में सिंधिया को दसवां स्थान मिलने पर कहा कि कहीं कोई नाराजगी नहीं है, बीजेपी में उन्हें पर्याप्त सम्मान मिल रहा है कांग्रेस में सम्मान नहीं था इसीलिए पार्टी छोड़ी.

आपको बता दें कि मध्य प्रदेश में विधानसभा उपचुनाव को लेकर बीजेपी की स्टार प्रचारकों की लिस्ट सामने आई थी. जिस सिंधिया के चलते प्रदेश में शिवराज सरकार बनी थी, उन्हीं महाराज को बीजेपी ने अपने टॉप-5 में शामिल नहीं किया है. हालांकि ज्योतिरादित्य सिंधिया को टॉप-10 में दसवें नंबर पर जगह मिली है. इस लिस्ट में पीएम मोदी और होम मिनिस्टर अमित शाह का नाम भी नहीं है.

Leave a Reply

Loading...