20200804 093507

विश्वास सारंग ने राम मंदिर मुद्दे पर दिग्विजय सिंह और कमलनाथ राजनीति न करने की सलाह दी

हम आपको बता दें कि कांग्रेस के नेता चुनाव से पहले रामभक्त और भगवान को मानने वाले बन जाते हैं. मध्यप्रदेश के पूर्व सीएम और कांग्रेस के दिग्गज नेता दिग्विजय सिंह ने मंदिर पूजन के मुहूर्त और गृह मंत्री अमित शाह से लेकर मंदिर के पुजारी के कोरोना पॉजिटिव होने को अशुभ मुहूर्त में होने के कारण बताया है। दिग्विजय ने एक के बाद एक ट्वीट करते हुए कहा कि मंदिर पूजन के लिए हिंदू धर्म की मान्यताओं को नजरअंदाज किया गया है। उन्होंने कहा कि इसी के कारण देश गृह मंत्री अमित शाह से लेकर राम 

दिग्विजय ने आज ट्वीट कर लिखा, ‘सनातन हिंदू धर्म की मान्यताओं को नजरअंदाज करने का तरीका।

विश्वास सारंग ने राम मंदिर मुद्दे पर दिग्विजय सिंह और कमलनाथ राजनीति न करने की सलाह दी


1- राम मंदिर के समस्त पुजारी कोरोना पॉजिटिव। कांग्रेस के दिग्गज नेता और मध्यप्रदेश के पूर्व सीएम कमलनाथ ने घोषणा की है कि चार अगस्त को कांग्रेस के तमाम कार्यकर्ता अपने-अपने घरों में हनुमान चालीसा का पाठ करेंगे। कमलनाथ ने कार्यकर्ताओं से कोरोना महामारी को लेकर जारी गाइड लाइन का पालन करते हुए यह पाठ करने के लिए कहा है। खुद कमल नाथ भी अपने आवास पर चार अगस्त की शाम को हनुमान चालीसा का पाठ करेंगे। 

इसी को लेकर मंत्री विश्वास सारंग ने अपनी प्रतिक्रिया दी है राममंदिर_भूमिपूजन / निर्माण मुद्दा किसी राजनीतिक दल का नहीं बल्कि आम जनता की ख़ुशी का विषय है।

जो #राम से प्यार करता है देश से प्यार करता है, जो राम को आराध्य मानता है। उसके लिए 5 अगस्त का दिन ज़िंदगी का सबसे बड़ा दिन है।

Leave a Reply

Loading...