30 कांग्रेस विधायक और कुछ निर्दलीय विधायक सचिन पायलट के संपर्क में

30 कांग्रेस विधायक और कुछ निर्दलीय विधायक sachin pilot and jyotiraditya scindia के संपर्क में

sachin pilot and jyotiraditya scindia 30 कांग्रेसी विधायक और कुछ निर्दलीय विधायक सचिन पायलट के संपर्क में हैं और उन्होंने जो भी फैसला किया है, उस पर अपना समर्थन दिया है: सूत्र.

sachin pilot and jyotiraditya scindia

कभी कांग्रेस का हिस्सा रहे भाजपा नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया ने राजस्थान में चल रहे सियासी संकट में जोरदार एंट्री मारी है। उन्होंने कहा है कि पुराने साथी रहे सचिन पायलट को हाशिए पर किया जाता देख और मुख्यमंत्री अशोक गहलोत द्वारा दरकिनार किए जाने से दुखी हूं। इससे साफ है कि कांग्रेस में योग्यता और क्षमताओं के लिए कोई जगह नहीं है। मालूम हो कि बीते दिनों इसी तरह के सियासी घटनाक्रम में सिंधिया ने भी कांग्रेस का दामन छोड़ कर भाजपा का दामन थाम लिया था।
sachin pilot and jyotiraditya scindia मौजूदा वक्‍त में राजस्‍थान के उप मुख्‍यमंत्री सचिन पायलट की नाराजगी ने अशोक गहलोत सरकार के लिए संकट पैदा कर दिया है। पायलट 23 से 24 विधायकों को साथ लेकर बागी तेवर अपनाए हुए हैं। बता दें कि सरकार बनने के बाद से ही दोनों नेताओं के बीच खींचतान चल रही थी जो संभवत: चरम पर जा पहुंची है। कांग्रेस ने इस सियासी संकट को थामने के लिए दिल्‍ली से कई नेताओं को राजस्‍थान रवाना किया है। मुख्‍यमंत्री अशोक गहलोत ने आरोप लगाया है कि भाजपा उनकी सरकार को अस्थिर करने की कोशिशें कर रही है।

sachin pilot jyotiraditya scindia

वहीं भाजपा का कहना है कि यह सियासी संकट कांग्रेस की अंदरूनी खींचतान का नतीजा है और इसमें उसकी कोई भूमिका नहीं है। यह भी बता दें कि इसी साल मार्च में ज्योतिरादित्य सिंधिया और उनके समर्थक छह मंत्रियों समेत 22 विधायकों ने कांग्रेस से इस्तीफा दे दिया था जिसके बाद मध्य प्रदेश में 15 महीने पुरानी कांग्रेस की सरकार गिर गई थी। अचानक आए इस सियासी संकट के चलते 20 मार्च को कमलनाथ को इस्तीफा देना पड़ा था। बाद में 23 मार्च को शिवराज सिंह चौहान के नेतृत्व में भाजपा ने सरकार बना ली थी।

Leave a Reply

Loading...