20200616 155317

भारत के सैनिकों ने भी किया चीनी जवानो पर हमला

china india face off: भारत और चीन के सैनिकों के बीच लद्दाख में ह‍िंसक झड़प हुई है। बताया जा रहा है क‍ि इसमें दोनों ही पक्षों से जवान मारे गए हैं। इस बीच चीन ने कहा है क‍ि भारतीय जवानों ने सीमा को पार क‍िया और हमारे सैनिकों पर हमला क‍िया।

हाइलाइट्स:

  • भारत के 3 सैनिकों की पीट-पीटकर हत्‍या करने के बाद चीन अब भारत पर ही धौंस दिखा रहा है
  • चीन के विदेश मंत्रालय ने कहा कि भारत एकतरफा कार्रवाई न करे या समस्‍या को न भड़काए
  • चीन ने दावा किया कि भारत के सैनिकों ने सीमा को पार किया और चीनी जवानों पर हमला किया

पेइचिंग
पूर्वी लद्दाख में सोमवार रात को भारत के 3 सैनिकों की पीट-पीटकर हत्‍या करने के बाद चीन अब उल्‍टे भारत पर ही धौंस दिखा रहा है। चीन के विदेश मंत्रालय से जब भारतीय जवानों की शहादत के बारे में पूछा गया तो उसने कहा कि भारत एकतरफा कार्रवाई न करे या समस्‍या को न भड़काए। चीन ने दावा किया कि भारत के सैनिकों ने सीमा को पार किया और चीनी जवानों पर हमला किया।
इस बीच चीनी विदेश मंत्रालय ने एक बयान जारी कर कहा, ‘भारतीय सैनिकों ने दो बार सीमा पार करके चीनी सैनिकों के खिलाफ उकसावे वाली कार्रवाई की जो दोनों पक्षों के बीच बनी सहमति के खिलाफ है। इसकी वजह से दोनों ही पक्षों के बीच गंभीर शारीरिक संघर्ष हुआ। चीन ने भारतीय पक्ष से इस पर आपत्ति जताई है। हमने भारत से अनुरोध किया है कि वह अपने सैनिकों पर सीमा को पार करने पर कड़ाई से नियंत्रण रखे या एकतरफा कार्रवाई करने से बचे जो सीमा की स्थिति को और ज्‍यादा जटिल बना सकता है।’

चीन के भी कई जवान हताहत
उधर, चीन के विदेश मंत्रालय के प्रवक्‍ता झाओ ल‍िजिन से जब इस हिंसक झड़प के बारे में पूछा गया तो उन्‍होंने कहा कि उन्‍हें भारत की सीमा पर हुये इस झड़प के बारे में कोई जानकारी नहीं है। बताया जा रहा है कि इस झड़प में भारत ने एक अधिकारी और दो जवानों के साथ चीन के भी कई जवान हताहत हुए हैं। इस घटना के बाद पूर्वी लद्दाख में भारत और चीन के बीच तनाव चरम पर पहुंच गया है।

गलवान घाटी में सेनाओं को पीछे करने की कवायद के दौरान दोनों देशों की सेनाओं में झड़प की खबर है। सेना के मुताबिक, हिंसक संघर्ष में भारत ने एक अधिकारी और दो जवान खो दिए हैं। चीन की तरफ कितना नुकसान हुआ है, इस बारे में अभी कोई जानकारी नहीं दी गई है। इस बड़े घटनाक्रम के बाद, दोनों सेनाओं के वरिष्‍ठ अधिकारी मौके पर मुलाकात कर हालात संभालने की कोशिश में लगे हुए हैं।

1975 के बाद चली गोली?
भारत और चीन के बीच सीमा पर आखिरी गोली 1975 में चली थी। जैसी खबरें आ रही हैं, उसके मुताबिक गलवान घाटी में करीब 40 साल बाद यह सिलसिला टूट गया है। गलवान घाटी उन पॉइंट्स में है जहां चीन की सेना ने घुसपैठ की थी। दोनों देशों के बीच कई दौर की बातचीत के बाद, चीनी सेना कुछ पॉइंट्स से वापस हटने लगी थी। मगर इस घटना के बाद, सीमा पर तनाव और बढ़ने की आशंका है।

चीन ने पैदा किया है LAC पर तनाव
मई के शुरुआती दिनों में चीनी सैनिकों ने LAC पर आक्रामक रुख अपनाना शुरू किया। पूर्वी लद्दाख में चार जगहों पर पीपुल्‍स लिबरेशन आर्मी (PLA) ने घुसपैठ की। बड़ी संख्‍या में चीनी सैनिक आर्टिलरी और बख्‍तरबंद गाड़‍ियों के साथ LAC के पास मौजूद हैं। गलवान घाटी और पैंगोंग झील, दो मुख्‍य पॉइंट हैं जहां दोनों देशों की सेनाएं आमने-सामने हैं।

Source link

Leave a Reply

Loading...